MPPSC Notification 2019 Full Vacancy Detail


MPPSC Notification 2019 (Madhya Pradesh Public Service Commission) ने Medical Officer पदों के लिए भर्तियां प्रकाशित की गयी है इक्छुक उम्मीदवार से अनुरोध है की MP PSC Vacancy मध्यप्रदेश रोजगार में आवेदन करने से पहले सारी जानकारियां ले उसके बाद ही अपनी योग्यता के अनुसार आवेदन करे | और मध्य प्रदेश के शेष चौदह जिलों के साथ-साथ मध्य भारत, भोपाल और विंध्य प्रदेश को नए मध्य प्रदेश बनाने के लिए विलय कर दिया गया। चूंकि भोपाल और विंध्य प्रदेश के लिए कोई लोक सेवा आयोग नहीं था, इसलिए ये भाग 'सी' राज्य हैं, और इन राज्यों के लिए भर्ती संघ लोक सेवा आयोग द्वारा की जा रही थी, संघ लोक द्वारा निपटाए गए मामलों के रिकॉर्ड इन दोनों राज्यों के लिए सेवा आयोग नए आयोग को उपलब्ध नहीं थे।

MPPSC Exam Notification 2019

शैक्षिक योग्यता - संबंधित क्षेत्रों में मेडिकल डिग्री / पोस्ट ग्रेजुएट डिप्लोमा या इसके सामान उपाधि होने पर भी स्वीकृति है अधिक जानकारी पाने के लिए प्रकाशित नोटिफिकेशन देखे | पदों की संख्या - 1065 पद पदों के नाम - मेडिकल ऑफिसर आवेदन करने की आखिरी तारीख - 05-03-2019

आवेदन शुल्क - ₹500/- + ₹40 पोर्टल चार्ज वेतनमान - नोटिफिकेशन के अनुसार प्रकाशित Govt Job में सैलेरी ₹15,600 - ₹39,100/- होगी |
रोजगार में आयु सीमा - इस रोजगार में प्रत्याशी की उम्र 65 वर्ष से ज्यादा नहीं होनी चाहिए | उम्र से सम्बंधित या और अधिक जानकारी प्राप्त करने के लिए प्रकाशित नोटिफिकेशन जरूर देखे | आयु सीमा निकले - Age Calculator अपनी DOB के माध्यम से आयु निकाले |रोजगार में चयन प्रक्रिया - Interview में परफॉरमेंस के अनुसार इस रोजगार में प्रत्याशी का चयन होगा |
आवेदन करने की प्रक्रिया - इस रोजगार के लिए आपको आवेदन ऑनलाइन करना होगा सभी उपयोगी जानकारियो को ऑफिसियल वेबसाइट में जाकर भरना होगा |
रोजगार की अधिक जानकारी यहाँ से प्राप्त करे (MPPSC Job 2019)ऑनलाइन आवेदन यहाँ से करें
ध्यान दें - मध्यप्रदेश पीएसी भर्ती MPPSC Bharti की अधिक जानकारियो को देखेने के लिए ऊपर दिए गए प्रकाशित MPPSC Notification को जरूर देखे, और सभी जानकारियों को ध्यान पूर्वक पढ़ कर ही आवेदन MPPSC Form भरे।

MP PSC Exam Form कैसे भरे करें ?

MPPSC मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग भर्ती 2019 के बारे में


मध्य प्रदेश लोक सेवा आयोग 1 नवंबर 1956 को राज्यों के पुनर्गठन के परिणामस्वरूप, मध्य प्रदेश के आठ जिलों को बॉम्बे राज्य में स्थानांतरित कर दिया गया था.. और मध्य प्रदेश के शेष चौदह जिलों के साथ-साथ मध्य भारत, भोपाल और विंध्य प्रदेश को नए मध्य प्रदेश बनाने के लिए विलय कर दिया गया। चूंकि भोपाल और विंध्य प्रदेश के लिए कोई लोक सेवा आयोग नहीं था, इसलिए ये भाग 'सी' राज्य हैं, और इन राज्यों के लिए भर्ती संघ लोक सेवा आयोग द्वारा की जा रही थी, संघ लोक द्वारा निपटाए गए मामलों के रिकॉर्ड इन दोनों राज्यों के लिए सेवा आयोग नए आयोग को उपलब्ध नहीं थे।


  • Google+